Kaam Vaasna

कुछ पुरानी PDF कहानियाँ Download Kahani App
मीठा मीठा मौसम

मीठा मीठा मौसम

सोनू मेरे पीछे क्रॉस लेग कर के बैठ गई। उसने पीछे से मेरे पेट पर हाथ बांध लिए।
दोस्तो, एक बात बोलना चाहूंगा सोनू एकदम बिंदास लड़की थी, उसने कभी भी अपने फेस पे कपड़ा नहीं बांधा।

बॉस की गरम सेक्सी बीवी-1

बॉस की गरम सेक्सी बीवी-1

रोनित का ऑफिस तो पत्रकार पुरम गोमती नगर में था और उसका घर महानगर में था। मुझे लगा था कि मुझे उसके ऑफिस तक ही सीमित रहना था लेकिन जब उसने मुझे अपनी सेक्सी बीवी का शोफर कम असिस्टेंट भी बना दिया तो मेरी कोई रूचि उसकी नौकरी में न रह गयी और आगे चल के इसीलिये मैंने उसकी नौकरी को लात मार दी थी।

डॉक्टर संग सेक्स भरी मस्ती

डॉक्टर संग सेक्स भरी मस्ती

इसी दौरान मैं गर्भवती हो गई। मेरी खुशी का ठिकाना ना रहा। पहली बार माँ बनने का एहसास क्या होता है यह लिख कर बताना बहुत मुश्किल है। अभी गर्भ तीन महीने का ही था कि मुझे कुछ तकलीफ हुई तो मैं एक डॉक्टर के पास अपना चेक-अप करवाने के लिए गई। पति देव भी साथ में ही थे।

बाप की हवस और बेटे का प्यार-1

बाप की हवस और बेटे का प्यार-1

एक दिन जब वो कहीं से आ रहा था, तो मैंने जानबूझ कर नाटक किया. जैसे ही वो मेरे पास से गुजरा, मैं ड्रामा करते हुए उसके सामने गिर गई. उसने झट से मुझे सहारा देते हुए उठाया और पूछा- अरे क्या हुआ?

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-9

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-9

मै- अभी शब्दों में बयान नहीं कर पाऊंगा। किंतु जब मैं उठा तो सीमा मेरे साथ बिस्तर पर नहीं थी; उसे ढूंढते हुए मैं यहां आया तो देखा कि रीना भी तुम्हारे साथ बिस्तर पर नहीं है। दोनों कहां जा सकती हैं?
श्लोक- क्या सीमा भी बिस्तर पर नहीं है?

ब्लू फिल्म के बहाने भाभी की चुदाई

ब्लू फिल्म के बहाने भाभी की चुदाई

उस समय मेरे पड़ोस में एक भाभी रहती थीं, जिनका नाम माया था. वो बहुत ही सेक्सी थीं. दो बच्चों की माँ थीं. उनका पति रोडवेज में कंडक्टर था. उनका पति बहुत शराब पीता था.. और देखने में भी दुबला पतला मरघिल्ला सा था.

कामुकता की इन्तेहा-7

कामुकता की इन्तेहा-7

अब वो लंबे लंबे झटके मार रहा था मगर हर झटके के बीच में वो लगभग एक सेकंड जितने समय के लिए रुक जाता और जब फुद्दी ऊपर आ रही होती तो पूरा निकाल के फुद्दी में मारता और उसे नीचे धकेल देता।
जब वो घस्सा मारता तो हर घस्से में साथ मेरे मुंह से निकलता- हाय, मेरी माँ, हाय मेरी माँ!

बॉस की गरम सेक्सी बीवी-2

बॉस की गरम सेक्सी बीवी-2

उस खास मुकाम में वैक्स लगाने या स्ट्रिप से उसे उखाड़ने के दरमियान मेरी निगाहें बार-बार उन दीवारों में छुपने की कोशिश करते अंदरूनी हिस्से को टटोल रही थीं और जानबूझकर मैं उसकी क्लिटोरिस छू रहा था जिससे उसके बदन में पड़ती थरथराहट भी मैं अनुभव कर सकता था।

बाप की हवस और बेटे का प्यार-2

बाप की हवस और बेटे का प्यार-2

कुछ दिनों बाद मनोज आया और बोला कि मैं दो दिनों के लिए आया हूँ. मुझसे तुम्हारी यह हालत नहीं देखी जा रही. मगर मैं भी मजबूर हूँ. चाह कर भी कुछ नहीं कर सकता क्योंकि मेरा बाप बुढ़ापे में भी तुम्हारी जिंदगी खराब कर गया है. उसे समझना चाहिए था कि उसका बेटा शादी के लायक है, तब भी बेटे की शादी करने के बजाये अपनी कर ली. मुझे नहीं पता कि तुम दोनों के बीच पति पत्नी वाले रिश्ते कैसे थे. मैं इनको पूछ कर भी तुम्हें शर्मिंदा नहीं करना चाहता. जो मेरे बाप ने आपके नाम लिखा है उसे अपने नाम पर ही रहने दो और अगर कोई पूछे तो कह देना कि मनोज ने अपने नाम करवा लिया है. इससे तुमसे कोई कुछ माँगने लायक नहीं रहेगा. हाँ कुछ थोड़ी बहुत सहायता करनी पड़े तो कर दिया करना, आख़िर वो भी मजबूरी में ही तुम्हारे पास आते हैं.

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-10

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-10

रात के खाने के बाद करीब 10 बजे:
हमें कमरे से बाहर रखा गया था क्योंकि हमें हमारी बीवियाँ सरप्राइज देना चाहती थी। शायद वे सामूहिक चुदाई के मंच को सजाना संवारना चाहती थी। वे दोनों मेरे कमरे में थी.

बहन की चुत चोद कर सेक्स का पहला अनुभव

बहन की चुत चोद कर सेक्स का पहला अनुभव

इस वक्त तक मेरे मन में ये बात कभी नहीं आई थी कि मैं अपनी बहन के साथ सेक्स करूँगा.

रेशमी सलवार वाली चाची के साथ सेक्स का मजा

रेशमी सलवार वाली चाची के साथ सेक्स का मजा

मैं सारा दिन स्कूल से आ कर उनके पास ही बैठा रहता था और उनके बिस्तर पर सीधा लेट जाता ताकि वो मेरे पेंट में से मेरे लंड का तनाव देख सकें. पर मेरी चाची मेरे लंड को फूलता देख कर अनदेखा कर दिया करती थीं.
अब मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या किया जाए.

गाँव की गोरियाँ देसी छोरियां

गाँव की गोरियाँ देसी छोरियां

सच तो यह था कि मुझे पक्का पता था सुजाता आज मेरे घर जरूर आयेगी टीवी देखें… और उसको आज किसी भी स्थिति में पटाकर ही छोड़ना है? और मान गई तो चोदना भी था।
मैं यह प्लान बनाकर ही अपने परिवार के साथ शहर नहीं गया था।

बाप की हवस और बेटे का प्यार-3

बाप की हवस और बेटे का प्यार-3

उसके बाद मैंने कपड़े पहनने शुरू किए और बाहर आकर उससे कहा- अरे तुम अभी नहाने नहीं गए, मैं तो सोच रही थी कि तुम अब तक नहा चुके होगे. अब जल्दी से करो, ताकि मैं नाश्ता बना लूँ.
मगर वो उठ नहीं रहा था क्योंकि उसका लंड पूरी तरह से मेरी चूत को देखने के बाद बैठना नहीं चाहता था. उसे अब चुत ही ढीला होने के लिए चाहिए थी.
मैंने उससे कहा- अब जल्दी भी करो.
यह कह कर मैंने अपना मुँह दूसरी तरफ कर लिया ताकि वो यह ना समझे कि मैं उसके लंड को देख रही हूँ.

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-11

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-11

रीना ने अपने हाथ बेड पर टिका दिए तथा दोनों छिद्रों में लिंग का स्वागत करने के लिए छिद्रों के द्वार खोल कर बैठ गई अब हम दोनों ने बेतहाशा झटके दिए जिससे कि रीना के मुंह से पोर्न फिल्मों के नायिका की तरह उम्फ़ … उन्हफ़ … की आवाज़ें निकलने लगी। रीना की चूत से अब जोरदार फच फच की आवाज आने लगी, उसने अपना सारा पानी छोड़ दिया तथा जोरदार झटकों के साथ में तथा श्लोक भी रीना की चूत और गांड में एक साथ स्खलित हो गए।

टीचर सेक्स स्टोरी: मैडम की चुदाई

टीचर सेक्स स्टोरी: मैडम की चुदाई

एक रोज की बात है मैडम ने मुझे ताड़ लिया। उस रोज उन्‍होंने मुझे कई बार उनको घूरते हुए पकड़ा। वह क्‍लास में तो कुछ नहीं बोलीं, बस हँस कर रह गयीं।